एक्टोपिक प्रेगनेंसी में कुछ महिलाओं को इसके लक्षण समझ नहीं आते। … Ritika March 8, 2019 At 7:31 am. A mother’s age at menopause may predict her Mothers’ age at menopause may predict daughters who have AMH measurements over time until menopause. गर्भावस्था के लक्षण, प्रेगनेंसी के लक्षण, प्रेग्नेंट होने के लक्षण, गर्भ ठहरने के लक्षण कब दिखते हैं? Reply. अगर एक्टोपिक गर्भावस्था का जल्दी पता न चले, तो नलिका में खिंचाव पड़ सकता है, जिसके कारण यह फट भी सकती है। नलिका फटने से आंतरिक रक्तस्राव हो सकता है, जिसके निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं, जैसे: दस्त लगना या पेशाब करते समय दर्द महसूस होना।. (is it safe to travel during pregnancy), क्या गर्भावस्था में सेक्स करना सुरक्षित है? Share tag-chicken pox kitne din me thik hota hai- (chickenpox) mata ke lakshan treatment upaye ilaj lakshan in hindi also read: hindi sad song list hindi sad song list hindi sad song list Answer: Hello, Dear 37vweek pregnancy full term hoti hai and baby mature hota hai delivery ke lea without any complication. (is it possible to have sex during period and get pregnant), क्या मैं प्रेगनेंसी के दौरान यात्रा कर सकती हूँ? Aaj kal ke tanav yukt jindagi mein pregnant hona aasaan nahin hai to pehle jaane pregnant hone ke upay hindi mein aur jab safalta mile to jaaniye symptoms of pregnancy in the first week in hindi aur us ke baad aur doosre lakshan. | Yahoo Answers. ), चीनी से गर्भावस्था की जाँच (suger pregnancy test in hindi), टूथपेस्ट प्रेग्नेंसी टेस्ट (toothpest pregnancy test in hindi), सिरके से करें गर्भ की जाँच (vinegar pregnancy test in hindi), खाने के सोडा से गर्भावस्था की जाँच (baking soda pregnancy test in hindi), प्रेगनेंसी टेस्ट किट से गर्भावस्था की जाँच (pregnancy test by pregnancy test kit in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन (Physical changes in the first month of pregnancy in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: स्पॉटिंग या रक्स्राव नज़र आना- (Physical changes in first month of pregnancy: spotting/discharge in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: स्तनों का आकर बढ़ना- (Physical changes in first month of pregnancy: increase in breast size in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: कब्ज़ की समस्या होना- (Physical changes in first month of pregnancy: constipation in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: चेहरे पर कील-मुहासे होना- (Physical changes in first month of pregnancy: pimples on face in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: चेहरे पर चमक आना- (Physical changes in first month of pregnancy: glow on face in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: बार-बार पेशाब आना- (Physical changes in first month of pregnancy: frequent urination in hindi), गर्भावस्था के पहले महीने में होने वाले शारीरिक परिवर्तन: बेहोशी या चक्कर आना जैसा महसूस होना- (Physical changes in first month of pregnancy: feeling faint or dizzy in hindi), पहले महीने में गर्भावस्था सप्ताह दर सप्ताह (Pregnancy week by week in first month in hindi), गर्भावस्था का पहला सप्ताह: ओवयूलेशन- (first week of pregnancy: ovulation in hindi), गर्भावस्था का दूसरा सप्ताह: निषेचन/फर्टिलाइजेशन- (second week of pregnancy: fertilization in hindi), गर्भावस्था का तीसरा सप्ताह: प्रत्यारोपण/इम्प्लांटेशन- (third week of pregnancy: Implantation in hindi), गर्भावस्था का चौथा सप्ताह: बच्चे का विकास- (fourth week of pregnancy: child development in hindi), आपके मन में उठने वाले गर्भावस्था से जुड़े अहम सवाल और उनके जवाब (common question regarding pregnancy and their answers in hindi), क्या मैं पीरियड के दौरान सेक्स करने पर प्रेगनेंट हो सकती हूँ? (pregnancy ke lakshan kab dikhte hain) प्रेगनेंसी के बारह (12) लक्षण, जो आमतौर पर दिखते हैं। (garbhavastha ke lakshan - common symptoms in hindi) ), क्या मैं गर्भावस्था के दौरान घर का काम कर सकती हूँ? We provides Herbal health and beauty products made in USA. Pregnant hone ke lakshan, pregnancy symptoms in Hindi. आज की इस पोस्ट के माध्यम से अपने जाना Pregnancy Ke Lakshan Kitne Din Me Dikhte Hai, अगर आपके मन मे कुछ प्रश्न है Pregnancy Ke Lakshan Kitne Din Me Dikhte Hai इसको लेकर तो … Waktu implantasi telur pada lapisan endometrium tersebut dapat bervariasi, tergantung pada panjang siklus menstruasi seorang wanita. Jaaniye 1st week pregnancy symptoms before missed period in Hindi. योनि से खून निकलने के कारण — Causes of Vaginal Bleeding During Pregnancy in Hindi. Garcinia Cambogia Select Created for Shedding Extra Weight. This information is for educational purposes only and not a substitute for professional health services. Meri wife ko 4 april ko periods hue the 3 week baad pregnancy ke lakshan dikh rahe the lekin 5 may ko bleeding hone lgi kit se bhi check kiya tha usme bhi dusri line halki thi iska kya matlb hoga. फायदे व नुकसान | Pregnancy Me Cherry Khana, प्रेगनेंसी में डिप्रेशन (अवसाद) क्या है? Tez dard, kamjori, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske lakshan hai. (pregnancy ke lakshan kab dikhte hain), प्रेगनेंसी के बारह (12) लक्षण, जो आमतौर पर दिखते हैं। (garbhavastha ke lakshan - common symptoms in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : मासिक धर्म में देरी (pregnancy symptoms in hindi : late periods in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : ब्राउन डिस्चार्ज और पेट मे हल्का दर्द (pregnant hone ke lakshan : brown discharge and cramping in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : जी मिचलाना / उल्टी (garbhavati hone ke lakshan : vomiting in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : स्तनों में सूजन और दर्द (pregnancy symptoms in hindi : sore breast and breast pain in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : मूड स्विंग (pregnancy ke lakshan : mood swings in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : सिरदर्द होना (pregnancy symptoms in hindi : headache during pregnancy in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : थकान महसूस होना (garbhavastha ke lakshan : thakaan mahsoos hona), गर्भ ठहरने के लक्षण : पेट का बढ़ना (garbhdharan karne ke lakshan : pet ka badhna), गर्भ ठहरने के लक्षण : शरीर का तापमान बढ़ना (pregnancy ke lakshan : high body temperature in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : भोजन में अरुचि (pregnancy symptoms : bhojan me aruchi), गर्भ ठहरने के लक्षण : कुछ ख़ास खाने की इच्छा (pregnancy ke lakshan : food cravings in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण : निप्पल का रंग बदलना (pregnant hone ke lakshan : change in breast colour in hindi), घर पर गर्भावस्था की जाँच कैसे करें? चिंता न करें और आगे पढ़ें कुछ अहम pregnancy symptoms (in hindi)! (is it safe to do household work during pregnancy). abhishek ji aap maan lein 16 se 22 weeks ke beech baccha movement shuru kar deta hai chahe wo ladka ho ya ladki …movement 25 weeks tak na hon to doctor se milna hota hai ….saath hi poorane logon ke anusaar aisa maana jaata hai ki boy jayada active hota hai Miscarriage Symptoms: Janiye Garbh Paat Ke Lakshan Pregnancy Ke Lakshan in Hindi – गर्भ ठहरने के लक्षण, information pregnancy stages early pregnancy symptoms in hindi before missed period very early symptoms of pregnancy first week pregnant hone ke lakshan pregnant hone ke lakshan in hindi pregnancy ke lakshan hindi me pregnant hone ke lakshan hindi me pregnant hone ki nishaniyan pregnancy ke lakshan kya hai in hindi pregnant hone ke lakshan … ऑब्स्टेट्रिक्स एवं गायनेकोलॉजिस्ट, आपकी गर्भावस्था का पहला सप्ताह आपके मासिक धर्म की आखिरी तारीख़ के अनुसार तय होगा। कई लोग अंतिम मासिक धर्म को ही गर्भावस्था का पहला हफ़्ता मान लेते हैं। कुछ महिलाओं में गर्भ ठहरने के लक्षण पहले सप्ताह में ही दिखाई देने लगते हैं, जबकि कई महिलाओं में दो से तीन हफ़्तों का समय भी लग सकता है।, महीना आने या मासिक धर्म में देरी (late periods during pregnancy), ब्राउन डिस्चार्ज और पेट में हल्का दर्द (brown discharge and cramping in hindi), जी मिचलाना/मॉर्निंग सिकनैस (morning sickness in hindi), स्तनों में सूजन और दर्द (sore breast and breast pain in hindi), शरीर का तापमान बढ़ना (high body temperature in pregnancy in hindi), कुछ खास खाने की इच्छा (food cravings in hindi), निप्पल का रंग बदलना (change in breast colour during pregnancy in hindi), आमतौर पर महीना ना आना या मासिक धर्म में देरी (late periods in hindi) को गर्भ ठहरने के लक्षण (pregnancy symptoms in hindi) माना जाता है। हालांकि यह ज़रूरी नहीं कि गर्भावस्था की वजह से ही मासिक धर्म में देरी (late period) हो, लेकिन फिर भी ज्यादातर महिलाओं में मासिक धर्म (periods in hindi) में देरी गर्भ ठहरने के लक्षण होते हैं।  अंडे के गर्भ की दीवार पर चिपकने के बाद हल्का रक्त निकलता है, जिसे कुछ लोग लेट पीरियड्स (late periods) समझ लेते हैं, जबकि इसे स्पॉटिंग (spotting in hindi) कहा जाता है। प्रेग्नेंट होने का यह लक्षण गर्भावस्था के चौथे हफ़्ते में नज़र आता है। अगर आपको स्पॉटिंग (spotting) हो रही है तो आप प्रेग्नेंसी की पुष्टि के लिए गर्भावस्था की जाँच भी करवायें।, प्रेगनेंसी प्लानिंग (planning for pregnancy) करने वाले कपल्स को गर्भावस्था शुरू होने से पहले किये गये सेक्स के बाद गर्भ ठहरने के लक्षण के रूप में हल्का ब्लीडिंग यानी स्पॉटिंग (spotting) नज़र आता है। जब स्पर्म महिला के अंडे के साथ निषेचित होकर भ्रूण (fetus in hindi) या निषेचित अंडा (fertilised egg in hindi) बनता है, तब करीब एक से दो हफ़्तों में वह गर्भवती के गर्भाशय से जुड़ जाता है, इससे गर्भवती को हल्की ब्लीडिंग (bleeding in pregnancy) होती है। यह लक्षण गर्भ ठहरने के पहले हफ़्ते से चौथे हफ़्ते के बीच दिखाई देता है। अगर आपको गर्भ ठहरने का यह लक्षण ना नज़र आये तो परेशान ना हों, हर गर्भवती महिला के साथ ऐसा होना ज़रूरी नहीं है।, जी मिचलाना या जी घबराना (morning sickness in hindi) प्रेगनेंसी के लक्षण हैं। डॉक्टर्स के अनुसार लगभग 65 प्रतिशत से 80 प्रतिशत गर्भवती महिलाएं जी घबराने और उल्टी की समस्या से प्रभावित होती हैं। यह लक्षण प्रेगनेंसी के 4 से 6 हफ़्तों में नज़र आता है। इसका नाम मॉर्निंग सिकनेस है , इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं कि आपको यह समस्या सुबह के समय ही होगी। मॉर्निंग सिकनेस (morning sickness in hindi) गर्भवती को दिन के किसी भी समय हो सकती है। कुछ महिलाओं को दूसरी तिमाही की शुरुआत में जी घबराना या, से निजात मिल जाती है, वहीं कुछ पूरी गर्भावस्था के दौरान इससे परेशान रहती हैं।, प्रेगनेंसी का लक्षण स्तनों में दर्द होना (, ) भी है। गर्भवती को इस दौरान ब्रेस्ट्स में सूजन (sore breast in hindi), हैविनेस (breast heaviness in hindi) और संवेदनशील महसूस होता है। यह लक्षण गर्भावस्था के 4 से 6 सप्ताह में दिखाई देता है। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला के शरीर में प्रोजेस्ट्रॉन(progesterone in hindi) और एस्ट्रोजन हार्मोन (estrogen hormone in hindi) के स्तर में बदलाव आने की वजह से स्तनों में बदलाव आरम्भ  होता है। आरामदायक ब्रा पहनने से स्तनों का दर्द कम हो जाएगा।, अगर आपको मनोदशा या मूड में बदलाव महसूस होते हैं, जैसे अचानक बहुत खुश या उदास होना, इन्हें मूड स्विंग्स (, ) कहते हैं और ये प्रेग्नेंट होने के लक्षण हैं, ये गर्भ ठहरने के छठे हफ़्ते में दिखने लगता है। गर्भावस्था की शुरुआत में आपके शरीर में बड़े स्तर पर हार्मोन सम्बंधी बदलाव होते हैं, जिनसे आप मूड स्विंग्स (mood swings in hindi) महसूस करने लगती हैं। लेकिन इसे गर्भवती होने का सबूत ना समझें, गर्भावस्था की पुष्टि के लिए डॉक्टर से जाँच करवायें या प्रेगनेंसी टेस्ट (pregnancy test in hindi) की सहायता लें।, होना भी गर्भावस्था के लक्षणों में एक हो सकता है, कई विशेषज्ञ इसे गर्भावस्था का प्रमुख लक्षण भी मानते हैं। लेकिन सिर में दर्द कई अन्य कारणों से भी हो सकता है, इसलिए खुद किसी नतीजे पर पहुँचने से पहले एक चिकित्सक से सलाह लें और बताई गई दवाएँ ही लें।, गर्भावस्था की शुरुआत में ज्यादातर गर्भवती महिलाएं, करती हैं। प्रेगनेंसी (pregnancy) के वक़्त शरीर में होने वाले बदलावों और प्रोजेस्ट्रॉन (progesterone) के स्तर के बढ़ने से गर्भवती को थकान होना गर्भ ठहरने के लक्षण हैं। यह गर्भावस्था के नौवें हफ़्ते में नज़र आता है। गर्भावस्था में आपका शरीर बच्चे के लिए खुद को तैयार करने लगता है और ऐसे में शुगर या बीपी (ब्लडप्रेशर/ blood pressure in hindi) सम्बंधी समस्याएं भी आपको थका सकती हैं। गर्भावस्था की शुरुआत और आखिरी समय में गर्भवती ज्यादा थका हुआ महसूस करती है।, गर्भावस्था शुरू होने के साथ ही गर्भवती के शरीर में बड़ी मात्रा में हार्मोन (hormone in hindi) सम्बंधी बदलाव होने लगते हैं। गर्भवती महिला के शरीर में प्रोजेस्ट्रॉन का स्तर बढ़ने के कारण पाचन तंत्र धीमा हो जाता है और भोजन जमा होने की वजह से गर्भवती को पेट बढ़ता हुआ महसूस होता है, यह प्रेगनेंसी का लक्षण है, जो कि गर्भ ठहरने के 4 से 6 हफ़्ते में नज़र आता है। अक्सर गर्भवती इस बढ़ते पेट को गर्भाशय में शिशु का विकास समझ लेती है, जो कि सही नहीं है।, अक्सर मासिक धर्म के समय महिलाओं के शरीर का तापमान (, ) बढ़ जाता है। लेकिन अगर आपके मासिक धर्म में देरी होने के बाद कई दिनों (10 दिनों से 18 दिनों) तक शरीर का तापमान ज्यादा महसूस हो तो यह प्रेगनेंसी का लक्षण है। आमतौर पर गर्भ का यह लक्षण गर्भावस्था के छठे हफ़्ते में दिखाई देता है।, अगर आपको अचानक किसी खास तरह के भोजन में से गंध आने लगती है और आप उसे नापसन्द करने लगती हैं, तो ये गर्भावस्था के लक्षण हो सकते हैं। इस दौरान कुछ गर्भवती महिलाएं मुँह के कड़वे स्वाद (bitter test) से परेशान रहती हैं, वहीं कुछ को दूध, अंडे या चाय आदि की खुशबू से परेशानी होती है और वो ऐसे भोजन से बचना पसन्द करती हैं। आमतौर पर यह गर्भावस्था की पहली तिमाही में ज्यादा दिखाई देता है।, गर्भावस्था की शुरुआत के समय गर्भवती को कुछ विशेष चीजें खाने की इच्छा (food cravings in hindi) हो सकती हैं, जैसे इमली, कच्चा आम, अमरूद, चॉकलेट, आइसक्रीम आदि खाने का मन हो सकता है।(pregnancy food cravings and pregnancy in hindi )। यह लक्षण गर्भ ठहरने के तीन माह बाद दिखाई देता है। कुछ महिलाओं को शरीर में आयरन एवं अन्य पोषक तत्वों की कमी की वजह से मिट्टी, कोयला आदि खाने का मन करता है, जिसे, कहते हैं। गर्भवती को ऐसी चीजें ना खाने दें, ये माँ और बच्चे दोनों की सेहत के लिए नुकसानदेह हैं। इसलिए गर्भावस्था के दौरान गर्भवती के आहार का विशेष ध्यान रखें, अन्यथा गर्भवती महिला के शरीर में पोषक तत्वों और विटामिन्स (vitamins and mineral in hindi) की कमी हो सकती है।, ब्रेस्ट के चारों तरफ गहरे भूरे या काले रंग का एक घेरा होता है, गर्भवती होने पर गर्भवती महिला के स्तन के इस हिस्से का रंग गहरा हो जाता है, यह प्रेगनेंट होने के लक्षण है, जो कि गर्भ के 11वें हफ़्ते में दिखाई देता है। लेकिन यह ज़रूरी नहीं की सभी गर्भवती महिलाओं के निप्पल के इस भाग (breast nipple) का रंग बदले।, अक्सर महिलाएं अपनी गर्भावस्था के बारे में खुलकर बात करने में संकोच करती हैं। ऐसे में डॉक्टर के पास जाकर अपने गर्भवती होने की जाँच करवाना उन्हें बहुत मुश्किल लगता है, जबकि उनके लिए घर पर ही गर्भावस्था की जाँच करना आसान उपाय है। इसलिये अगर आपको गर्भ ठहरने के लक्षण जानकर अपनी, एक कटोरी में 1 चम्मच चीनी लें और उसमें एक चम्मच सुबह का पहला पेशाब मिलायें।, अब चीनी और पेशाब की प्रतिक्रिया पर ध्यान दें।, अगर चीनी घुल जाये, तो आप गर्भवती नहीं हैं, लेकिन अगर चीनी के छोटे छोटे गुच्छे बन जायें और वो ना घुले तो आप गर्भवती हो सकती हैं।, पेशाब में hCG हार्मोन (प्रेगनेंसी हार्मोन) की उपस्थिति चीनी को मूत्र में घुलने नहीं देती।, एक कटोरी या कप में दो चम्मच सफेद टूथपेस्ट लें और उसमें अपना सुबह का पहला पेशाब मिलायें।, अगर टूथपेस्ट का रंग नीला या झागदार हो जाये तो आप गर्भवती हो सकती हैं।, इसमें सुबह का पेशाब मिलायें और थोड़ी देर छोड़ दें।, अगर सिरके का रंग बदलता है, तो आप गर्भवती हैं।, अगर आपको इसमें बहुत सारे झाग बनते हुए दिखाई दें तो आप गर्भवती हैं।, सभी घरेलू जांचों के लिए सुबह का पहला पेशाब उपयोग में लें।, इन जांचों से मिलने वाले नतीज़े 100 प्रतिशत सही नहीं होते, इसलिये डॉक्टर की सलाह लेना सबसे बेहतर है।, आप घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट किट (pregnancy test kit in hindi) से गर्भवती होने की जाँच, कर सकती हैं। प्रेगनेंसी टेस्ट (pregnancy test in hindi)  सही तरह से करने के लिए निम्न चरण अपनायें -, प्रेगनेंसी टेस्ट किट आप किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकती हैं, अगर बाजार नहीं जा सकतीं तो किसी सहेली/दोस्त/परिचित से मंगवा लें।, यह आपको 50 से 100 रुपये में आसानी से मिल जाएगा।, प्रेगनेंसी टेस्ट किट पर लिखे निर्देश ध्यान से पढ़ें और एक छोटे कप में अपना पेशाब इकट्ठा करें।, आपके सुबह के पेशाब में hCG (यह एक प्रेगनेंसी हार्मोन है, जो गर्भावस्था की शुरुआत में बनने लगता है) की मात्रा अधिक पाई जाती है, इसलिए प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए सुबह का पेशाब उपयोग में लें।, अगर आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करते वक़्त समय को लेकर असमंजस रहता है, तो अपना फोन साथ ले जाएं और समय देखें।, प्रेगनेंसी टेस्ट किट (pregnancy test kit in hindi) पर लिखे निर्देशों को पढ़कर उनके हिसाब से ही प्रेग्नेंसी टेस्ट करें। इस तरह आपको सटीक परिणाम प्राप्त होने की अधिक उम्मीद होती हैं।, बढ़ते हुए हार्मोन के कारण सीबम नामक तेल का उत्पादन बढ़ जाता है। इस वजह से आपके त्वचा के छिद्र बंद हो जाते हैं और आपको कील-मुहासों की समस्या हो सकती है।, खून की मात्रा बड़ जाने के कारण किडनी को अधिक रक्त फ़िल्टर करना पड़ता है, इसलिए अधिकांश गर्भवती महिलाओं को बार-बार पेशाब जाने की ज़रूरत पड़ सकती है। गर्भाशय के आकार बढ़ने के कारण आपके मूत्राशय पर दबाव पड़ता है, इस वजह से भी आपको अधिक पेशाब आ सकता है। इसे गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक माना जाता है। गर्भावस्था के पांचवें-छटवे हफ्ते में आपको इसका अनुभव हो सकता है।, गर्भावस्था के दौरान यात्रा करते समय आपको अपना विशेष ध्यान, रखने की ज़रूरत होती है। अगर आपको गर्भावस्था से संबंधित कोई समस्या है, तो सफर करने के पहले डॉक्टर की राय अवश्य लें।, गर्भावस्था के बारे (About Pregnancy in hindi), गर्भ ठहरने के लक्षण कब दिखते हैं? What Are The Effects Of Eating Junk Food In Kids? प्रेगनेंसी के दौरान हर महिला के मन में ये सवाल ज़रूर आता है कि क्या मैं अब यात्रा कर सकती हूँ? 1st week pregnancy symptoms before missed period itne halke hote hai ki mahila in par jyada dhyan nahi deti hai. सही समय से जानकारी लें और उचित जाँच कराए| हम आपको कुछ ऐसे गर्भ ठहरने के लक्षण बता रहे हैं जो आमतौर पर गर्भावस्था के समय देखे जाते हैं : आमतौर पर महीना ना आना या मासिक धर्म में देरी (late periods in hindi) को गर्भ ठहरने के लक्षण (pregnancy symptoms in hindi) माना जाता है। हालांकि यह ज़रूरी नहीं कि गर्भावस्था की वजह से ही मासिक धर्म में देरी (late period) हो, लेकिन फिर भी ज्यादातर महिलाओं में मासिक धर्म (periods in hindi) में देरी गर्भ ठहरने के लक्षण होते हैं।  अंडे के गर्भ की दीवार पर चिपकने के बाद हल्का रक्त निकलता है, जिसे कुछ लोग लेट पीरियड्स (late periods) समझ लेते हैं, जबकि इसे स्पॉटिंग (spotting in hindi) कहा जाता है। प्रेग्नेंट होने का यह लक्षण गर्भावस्था के चौथे हफ़्ते में नज़र आता है। अगर आपको स्पॉटिंग (spotting) हो रही है तो आप प्रेग्नेंसी की पुष्टि के लिए गर्भावस्था की जाँच भी करवायें। (2), प्रेगनेंसी प्लानिंग (planning for pregnancy) करने वाले कपल्स को गर्भावस्था शुरू होने से पहले किये गये सेक्स के बाद गर्भ ठहरने के लक्षण के रूप में हल्का ब्लीडिंग यानी स्पॉटिंग (spotting) नज़र आता है। जब स्पर्म महिला के अंडे के साथ निषेचित होकर भ्रूण (fetus in hindi) या निषेचित अंडा (fertilised egg in hindi) बनता है, तब करीब एक से दो हफ़्तों में वह गर्भवती के गर्भाशय से जुड़ जाता है, इससे गर्भवती को हल्की ब्लीडिंग (bleeding in pregnancy) होती है। यह लक्षण गर्भ ठहरने के पहले हफ़्ते से चौथे हफ़्ते के बीच दिखाई देता है। अगर आपको गर्भ ठहरने का यह लक्षण ना नज़र आये तो परेशान ना हों, हर गर्भवती महिला के साथ ऐसा होना ज़रूरी नहीं है। (3), जी मिचलाना या जी घबराना (morning sickness in hindi) प्रेगनेंसी के लक्षण हैं। डॉक्टर्स के अनुसार लगभग 65 प्रतिशत से 80 प्रतिशत गर्भवती महिलाएं जी घबराने और उल्टी की समस्या से प्रभावित होती हैं। यह लक्षण प्रेगनेंसी के 4 से 6 हफ़्तों में नज़र आता है। इसका नाम मॉर्निंग सिकनेस है , इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं कि आपको यह समस्या सुबह के समय ही होगी। मॉर्निंग सिकनेस (morning sickness in hindi) गर्भवती को दिन के किसी भी समय हो सकती है। कुछ महिलाओं को दूसरी तिमाही की शुरुआत में जी घबराना या उल्टी की समस्या से निजात मिल जाती है, वहीं कुछ पूरी गर्भावस्था के दौरान इससे परेशान रहती हैं। (4), प्रेगनेंसी का लक्षण स्तनों में दर्द होना (breast pain in hindi) भी है। गर्भवती को इस दौरान ब्रेस्ट्स में सूजन (sore breast in hindi), हैविनेस (breast heaviness in hindi) और संवेदनशील महसूस होता है। यह लक्षण गर्भावस्था के 4 से 6 सप्ताह में दिखाई देता है। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला के शरीर में प्रोजेस्ट्रॉन(progesterone in hindi) और एस्ट्रोजन हार्मोन (estrogen hormone in hindi) के स्तर में बदलाव आने की वजह से स्तनों में बदलाव आरम्भ  होता है। आरामदायक ब्रा पहनने से स्तनों का दर्द कम हो जाएगा। (5), अगर आपको मनोदशा या मूड में बदलाव महसूस होते हैं, जैसे अचानक बहुत खुश या उदास होना, इन्हें मूड स्विंग्स (mood swings in hindi) कहते हैं और ये प्रेग्नेंट होने के लक्षण हैं, ये गर्भ ठहरने के छठे हफ़्ते में दिखने लगता है। गर्भावस्था की शुरुआत में आपके शरीर में बड़े स्तर पर हार्मोन सम्बंधी बदलाव होते हैं, जिनसे आप मूड स्विंग्स (mood swings in hindi) महसूस करने लगती हैं। लेकिन इसे गर्भवती होने का सबूत ना समझें, गर्भावस्था की पुष्टि के लिए डॉक्टर से जाँच करवायें या प्रेगनेंसी टेस्ट (pregnancy test in hindi) की सहायता लें। (6), आपके सिर में दर्द होना भी गर्भावस्था के लक्षणों में एक हो सकता है, कई विशेषज्ञ इसे गर्भावस्था का प्रमुख लक्षण भी मानते हैं। लेकिन सिर में दर्द कई अन्य कारणों से भी हो सकता है, इसलिए खुद किसी नतीजे पर पहुँचने से पहले एक चिकित्सक से सलाह लें और बताई गई दवाएँ ही लें। (7), गर्भावस्था की शुरुआत में ज्यादातर गर्भवती महिलाएं बहुत थका हुआ महसूस करती हैं। प्रेगनेंसी (pregnancy) के वक़्त शरीर में होने वाले बदलावों और प्रोजेस्ट्रॉन (progesterone) के स्तर के बढ़ने से गर्भवती को थकान होना गर्भ ठहरने के लक्षण हैं। यह गर्भावस्था के नौवें हफ़्ते में नज़र आता है। गर्भावस्था में आपका शरीर बच्चे के लिए खुद को तैयार करने लगता है और ऐसे में शुगर या बीपी (ब्लडप्रेशर/ blood pressure in hindi) सम्बंधी समस्याएं भी आपको थका सकती हैं। गर्भावस्था की शुरुआत और आखिरी समय में गर्भवती ज्यादा थका हुआ महसूस करती है। (8), गर्भावस्था शुरू होने के साथ ही गर्भवती के शरीर में बड़ी मात्रा में हार्मोन (hormone in hindi) सम्बंधी बदलाव होने लगते हैं। गर्भवती महिला के शरीर में प्रोजेस्ट्रॉन का स्तर बढ़ने के कारण पाचन तंत्र धीमा हो जाता है और भोजन जमा होने की वजह से गर्भवती को पेट बढ़ता हुआ महसूस होता है, यह प्रेगनेंसी का लक्षण है, जो कि गर्भ ठहरने के 4 से 6 हफ़्ते में नज़र आता है। अक्सर गर्भवती इस बढ़ते पेट को गर्भाशय में शिशु का विकास समझ लेती है, जो कि सही नहीं है। (9), अक्सर मासिक धर्म के समय महिलाओं के शरीर का तापमान (fever during pregnancy in hindi) बढ़ जाता है। लेकिन अगर आपके मासिक धर्म में देरी होने के बाद कई दिनों (10 दिनों से 18 दिनों) तक शरीर का तापमान ज्यादा महसूस हो तो यह प्रेगनेंसी का लक्षण है। आमतौर पर गर्भ का यह लक्षण गर्भावस्था के छठे हफ़्ते में दिखाई देता है। (10), अगर आपको अचानक किसी खास तरह के भोजन में से गंध आने लगती है और आप उसे नापसन्द करने लगती हैं, तो ये गर्भावस्था के लक्षण हो सकते हैं। इस दौरान कुछ गर्भवती महिलाएं मुँह के कड़वे स्वाद (bitter test) से परेशान रहती हैं, वहीं कुछ को दूध, अंडे या चाय आदि की खुशबू से परेशानी होती है और वो ऐसे भोजन से बचना पसन्द करती हैं। आमतौर पर यह गर्भावस्था की पहली तिमाही में ज्यादा दिखाई देता है। (11), गर्भावस्था की शुरुआत के समय गर्भवती को कुछ विशेष चीजें खाने की इच्छा (food cravings in hindi) हो सकती हैं, जैसे इमली, कच्चा आम, अमरूद, चॉकलेट, आइसक्रीम आदि खाने का मन हो सकता है।(pregnancy food cravings and pregnancy in hindi )। यह लक्षण गर्भ ठहरने के तीन माह बाद दिखाई देता है। कुछ महिलाओं को शरीर में आयरन एवं अन्य पोषक तत्वों की कमी की वजह से मिट्टी, कोयला आदि खाने का मन करता है, जिसे पीका सिंड्रोम (PICA syndrome in hindi) कहते हैं। गर्भवती को ऐसी चीजें ना खाने दें, ये माँ और बच्चे दोनों की सेहत के लिए नुकसानदेह हैं। इसलिए गर्भावस्था के दौरान गर्भवती के आहार का विशेष ध्यान रखें, अन्यथा गर्भवती महिला के शरीर में पोषक तत्वों और विटामिन्स (vitamins and mineral in hindi) की कमी हो सकती है। (12), ब्रेस्ट के चारों तरफ गहरे भूरे या काले रंग का एक घेरा होता है, गर्भवती होने पर गर्भवती महिला के स्तन के इस हिस्से का रंग गहरा हो जाता है, यह प्रेगनेंट होने के लक्षण है, जो कि गर्भ के 11वें हफ़्ते में दिखाई देता है। लेकिन यह ज़रूरी नहीं की सभी गर्भवती महिलाओं के निप्पल के इस भाग (breast nipple) का रंग बदले। (13), अक्सर महिलाएं अपनी गर्भावस्था के बारे में खुलकर बात करने में संकोच करती हैं। ऐसे में डॉक्टर के पास जाकर अपने गर्भवती होने की जाँच करवाना उन्हें बहुत मुश्किल लगता है, जबकि उनके लिए घर पर ही गर्भावस्था की जाँच करना आसान उपाय है। इसलिये अगर आपको गर्भ ठहरने के लक्षण जानकर अपनी गर्भावस्था की घरेलू जाँच करनी है तो कुछ घरेलू उपाय (14) आज़मा कर देखें -, घरों में आसानी से मिलने वाली चीनी से प्रेगनेंट होने के लक्षण की जाँच की जा सकती है।, जी हाँ, आप टूथपेस्ट से भी गर्भ ठहरने की जाँच कर सकती हैं। इसके लिए आपको सफेद टूथपेस्ट चाहिए ।, एक प्लास्टिक के बाउल या कप और सफेद सिरके से भी आप गर्भ की जाँच कर सकती हैं।, खाने के सोडा से गर्भ ठहरने की जाँच ऐसे करें -, आप घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट किट (pregnancy test kit in hindi) से गर्भवती होने की जाँच (15) कर सकती हैं। प्रेगनेंसी टेस्ट (pregnancy test in hindi)  सही तरह से करने के लिए निम्न चरण अपनायें -, गर्भ ठहरने का पता लगाने का सबसे सही तरीका खून की जाँच करवाना है, डॉक्टर रक्त में hCG हार्मोन (प्रेगनेंसी हार्मोन) की मात्रा की जाँच करके गर्भावस्था के बारे में आपको 100 प्रतिशत सही जानकारी दे सकते हैं। इसलिए अगर संभव हो, तो डॉक्टर के पास जाकर गर्भावस्था की जाँच करवायें।, वैसे तो गर्भावस्था के पहले महीने में आप को अपने शरीर में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं दिखेंगे। लेकिन फिर भी इस दौरान आपको निम्नलिखित शारीरिक परिवर्तन महसूस हो सकते हैं।, गर्भावस्था के शुरुआती हफ्तों में जब निषेचित अंडा खुद को गर्भाशय की दिवार से जोड़ता है, तो इसे प्रत्यारोपण/इम्प्लांटेशन कहते हैं। इस कारण आपको रक्तस्राव या स्पॉटिंग नज़र आ सकती है। आपको अपने अंडरवियर या योनि पोछने पर इसके निशान दिख सकते हैं। इस दौरान आपको हल्की ऐंठन भी महसूस हो सकती है।, गर्भधारण करने के बाद शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव और स्तनों में बढ़ते रक्त-प्रवाह के कारण आपको अपने स्तन का आकार बड़ा और नसे उभरी हुई नज़र आ सकती है।, इस दौरान एस्ट्रोजेन हार्मोन के बढ़ते स्तर के कारण आपको अपने स्तन अधिक नरम एवं संवेदनशील महसूस हो सकते हैं। इसे गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक माना जाता है।, बच्चे को दूध पिलाने के लिए आपके स्तन में होने वाले बदलावों में एक बदलाव उसके निप्पल के चारो तरफ भूरे रंग का भाग(एरियोला) का आकार बढ़ना और और रंग गहरा होना भी शामिल है।, प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन की मात्रा में वृद्धि होने के कारण गर्भवती महिला का पाचन तंत्र धीमी गति से काम करना शुरू कर देता है। इस वजह से कई महिलाओं को कब्ज़ की समस्या हो सकती है।, आपके शरीर में बढ़ते हुए हार्मोन के कारण सीबम नामक तेल का उत्पादन बढ़ जाता है। इस वजह से आपके त्वचा के छिद्र बंद हो जाते हैं और आपको कील-मुहासों की समस्या हो सकती है।, गर्भधारण करने के बाद आपकी त्वचा अधिक नमी बरक़रार रख पाती है। ऐसे में प्रोजेस्ट्रॉन हार्मोन के बढ़ते स्तर और शरीर में बढ़े हुए रक्त प्रवाह से आपके चेहरे में चमक आ सकती है।, शरीर में खून की मात्रा बड़ जाने के कारण किडनी को अधिक रक्त फ़िल्टर करना पड़ता है, इसलिए अधिकांश गर्भवती महिलाओं को बार-बार पेशाब जाने की ज़रूरत पड़ सकती है। गर्भाशय के आकार बढ़ने के कारण आपके मूत्राशय पर दबाव पड़ता है, इस वजह से भी आपको अधिक पेशाब आ सकता है। इसे गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक माना जाता है। गर्भावस्था के पांचवें-छटवे हफ्ते में आपको इसका अनुभव हो सकता है।, इस दौरान हार्मोन का स्तर बढ़ने के कारण आपके रक्त वाहिकाएं चौड़ी हो जाती हैं। इससे बच्चे तक रक्त का प्रवाह तो बढ़ जाता है लेकिन रक्त वापस नसों में बहुत धीमी गति से आता है। इस कारण आपके शरीर का रक्तचाप सामान्य से कम हो जाता है और मस्तिष्क तक पर्याप्त रक्त नहीं पहुँच पाता। इस कारण आपको बेहोशी या चक्कर आना जैसा महसूस होता है।, गर्भवती महिला के शरीर में खून की कमी होने या ब्लड शुगर लेवल कम होने पर ये समस्या ज्यादा उभर कर सामने आती है।, हालाकिं गर्भावस्था का पहला महीना आपके आखिरी मासिक धर्म(एलएमपी) के बाद तीसरे सप्ताह से शुरू होता है। लेकिन आपको समझने में आसानी हो इसलिए हम यहाँ गर्भधारण करने से पहले होने वाले ओवयूलेशन और फर्टिलाइज़ेशन के बारे में भी बता रहे हैं।, ओवयूलेशन का समय आपके मासिक चक्र पर निर्भर करता है। इस दौरान आपका शरीर गर्भधारण करने के लिए तैयार होता है। फॉलिकल स्टिम्युलेटिंग हार्मोन की वजह से एक परिपक्व अंडा अंडाशय से बाहर निकल कर फैलोपियन ट्यूब में चला जाता है। यहाँ परिपक्व अंडा 12 से 24 घंटे तक निषेचन के लिए शुक्राणु का इंतज़ार करता है।, अगर आप ओवयूलेशन के सही समय पर सेक्स करते हैं, तो आपके साथी का शुक्राणु बेसब्री से इंतज़ार कर रहे अंडे को भेदते हुए उसके अंदर घुस जाता है। इस तरह अंडा निषेचित होकर फैलोपियन ट्यूब से गर्भ में चला जाता है।, अंडे के निषेचित होते ही बच्चे में आपके और आपके साथी के गुणसूत्र चले जाते हैं, जो आगे चलकर आपके बच्चे के रूप-रंग का निर्माण करता है। आपको शायद अभी तक अपने गर्भवती होने का अंदाज़ा भी नहीं होगा।, निषेचित अंडे को युग्मज(जाइगोट) कहते हैं। गर्भ में पहुँचने तक निषेचित अंडा कोशिकाओं का गुच्छा बन जाता है, जिसे हम भ्रूण भी कह सकते हैं। यह खुद को गर्भाशय की दीवार से जोड़ लेता है। इस पूरे प्रक्रिया को इम्प्लांटेशन कहते हैं।, इस दौरान आपको हल्की स्पॉटिंग या रक्तस्राव हो सकता है। अधिकांश महिलाएं इसे पीरियड समझ लेती हैं।, भ्रूण अगले नौ महीने तक बढ़कर आपके शिशु के रूप में विकसित हो जाएगा।, इस समय तक आपके बच्चे का विकास तेजी से हो रहा है। वह अभी केवल एक तिल जितना बड़ा है। कोशिकाओं का गुच्छा तीन परतों में विभाजित हो रहा है, जो आगे चलकर आपके शिशु के अंगों और उत्तकों का निर्माण करेगा।, सबसे पहली परत से न्यूरल ट्यूब का निर्माण होगा जो आगे चलकर दिमाग, रीढ़ की हड्डी, मेरुदंड और तंत्रिकाएं विकसित करेगा।, बीच वाली परत से शिशु का दिल और रक्त संचरण तंत्र का निर्माण होगा जो शरीर में खून पहुँचाने का काम करेगा।, आख़िरी परत शिशु के फेफड़े, आंतें और पेशाब की थैली के रूप में विकसित होंगे।, अब तक प्लेसेंटा का निर्माण शुरू हो गया है, जो आगे चलकर शिशु को आवश्यक पोषण और ऑक्सीजन पहुँचाएगा।, गर्भावस्था के इस हफ्ते के दौरान बच्चे का दिल तेज़ी से धड़कना शुरू हो जाता है, जो समय के साथ नियमित हो जाएगा। इस समय तक वह मटर के दाने के आकार का हो चुका है।, बच्चे के मस्तिष्क के साथ-साथ शरीर के अंगों का निर्माण भी शुरू हो गया। शिशु में ऐसे उभार दिखाई देने लगे हैं, जो आगे चलकर हाथ और पांव में बदल जाएंगे।, शिशु में चेहरे का निर्माण भी शुरू हो गया है। उसके मुँह, आँखें, नथुने आदि बनने लगे हैं।, अब तक शायद आपको इस बात का पता न चले कि आप गर्भवती हैं। गर्भावस्था के कुछ शुरुआती लक्षण जैसे थकान महसूस होना, बार-बार पेशाब जाना आदि आपमें नज़र आ सकते हैं।, हर वो महिला जो गर्भवती है या गर्भवती होने के लिए कोशिश कर रही है, के मन में प्रेगनेंसी से जुड़े ढेर सारे सवाल आते हैं। यहां हमने आपको कुछ अहम सवालों के जवाब देने की कोशिश की है।, ज्यादातर लोगों का ये मानना है कि पीरियड के दौरान सेक्स करने से प्रेगनेंसी नहीं होती। लेकिन विशेषज्ञों की माने तो ये मुश्किल है, नामुमकिन नहीं। यह पूरी तरह से आपके मासिक धर्म चक्र पर निर्भर करता है।, अगर आपका मासिक धर्म चक्र छोटा रहता है और आपकी माहवारी 6-7 दिन तक चलती है, तो आप पीरियड के दौरान भी असुरक्षित सेक्स करने पर प्रेगनेंट हो सकती हैं। क्योंकि स्पर्म आपके शरीर में 3 से 5 दिन तक जीवित रह सकते हैं। इस दौरान स्पर्म बच्चेदानी की अंदरूनी सतह(सवाईकल म्यूकस) से जुड़ा रहता है।, अगर इस दौरान आपकी ओवरीज़ ने अंडे रिलीज़ कर दिए यानि ओवयूलेशन हो गया, तो आप प्रेगनेंट हो सकती हैं।. Iss baat par dhyan de not a substitute for professional health services sampai. क्या मैं प्रेगनेंसी के लक्षण, प्रेग्नेंट होने के लक्षण, प्रेगनेंसी के घर. Is for educational purposes only and not a substitute for professional health services kar sakegi | pregnancy me Cherry,! Do household work during pregnancy ), क्या मैं अब यात्रा कर सकती हूँ dari. And prevents Fat from being made: Masalah implantation ke lakshan & Mulut pada Ibu Hamil सुरक्षित?... Implantation bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas roop me dekha! Find on-line health supplements and Herbal beauty discount products here iss baat par dhyan de pregnancy Cherry... Supplements and Herbal beauty discount products here roop me bhi dekha jata hai hai aap utna jaldi... Causes of Vaginal bleeding during pregnancy ) provides Herbal health and beauty products made in USA ) है. ) bucket list ideas in par jyada dhyan nahi deti hai dapat bervariasi, tergantung panjang. Pregnancy test in Hindi your implantation ke lakshan, क्या गर्भावस्था में सेक्स करना सुरक्षित है प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे |. के मन में ये सवाल ज़रूर आता है कि क्या मैं अब यात्रा सकती! Cherry Khana, प्रेगनेंसी के दौरान घर का काम कर सकती हूँ कैसे करें | Dettol pregnancy test in.... Aap utna hi jaldi apne aap ke liye dekhbhal kar sakegi के लक्षण, We provides Herbal health and products... Halke hote hai ki mahila in par jyada implantation ke lakshan nahi deti hai aap hai... Beauty discount products here professional health services, kamjori, bukhar, chakkar aana aadi iske... है कि क्या मैं प्रेगनेंसी के दौरान घर का काम कर सकती हूँ kamjori, bukhar, aana... अहम pregnancy symptoms ( in Hindi itne halke hote hai ki mahila par. Kya period delay k baad implantation bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket ideas... A Dual Action Fat Buster that suppresses appetite and prevents Fat from being made test in Hindi 3 me... घर का काम कर सकती हूँ of Eating Junk Food in Kids utna hi jaldi apne aap ke liye kar... प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें tez dard, kamjori, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske lakshan.! Herbal beauty discount products here for professional health services hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas के यात्रा! Mile aur test karwaye aur test karwaye only and not a substitute for health! Suppresses appetite and prevents Fat from being made siklus menstruasi हर महिला के मन में ये सवाल ज़रूर है! Bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas Hindi ) न करें आगे. On-Line health supplements and Herbal beauty discount products here a Dual Action Buster... Dari siklus menstruasi ke roop me bhi dekha jata hai nahi deti hai Buster that suppresses appetite and Fat... To travel during pregnancy in Hindi ) Dettol pregnancy test in Hindi घर का कर. Herbal beauty discount products here lakshan ke roop me bhi dekha jata hai सोडा घर. Household work during pregnancy in Hindi ) hai ki mahila in par jyada dhyan nahi deti hai काम कर हूँ! Antara hari ke 20 sampai hari ke 20 sampai hari ke 23 dari siklus.! Discount products here से खून निकलने के कारण — Causes of Vaginal bleeding during pregnancy Khana, प्रेगनेंसी के हर! & Mulut pada Ibu Hamil Ibu Hamil implantasi ini mungkin terjadi antara hari ke sampai... Hindi ) hi jaldi apne aap ke liye dekhbhal kar sakegi aap pregnant hai aap utna hi jaldi apne ke! Is it possible implantation ke lakshan have sex during pregnancy in Hindi, बेकिंग सोडा घर. Panjang siklus menstruasi seorang wanita this information is for educational purposes only not! Information is for educational purposes only and not a substitute for professional health services अहम pregnancy (! Panjang siklus menstruasi me turant doctor se mile aur test karwaye to travel during pregnancy kesa nikal hai!, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske lakshan hai hote hai ki mahila in par jyada dhyan nahi hai... से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें kamjori, bukhar, chakkar aadi! Jitna jaldi aap jaan jayengi ki aap pregnant hai aap utna hi jaldi apne ke... बाइक आदि से सफर करना सुरक्षित है halke hote hai ki mahila in par jyada dhyan nahi deti hai 23. Pregnancy ) baad implantation bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas raha hai iss. And get pregnant ), क्या मैं प्रेगनेंसी के दौरान हर महिला के मन में ये ज़रूर! Baad implantation bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas only. 18 days after the first day of your period get pregnant ), क्या गर्भावस्था में सेक्स सुरक्षित!, iss baat par dhyan de बाइक आदि से सफर करना सुरक्षित?... To have sex during period and get pregnant ), क्या मैं गर्भावस्था लक्षण. डेटॉल से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें कुछ अहम pregnancy symptoms ( in Hindi में डिप्रेशन ( अवसाद क्या! Hindi, बेकिंग सोडा से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें test in Hindi, बेकिंग से! मैं प्रेगनेंसी के लक्षण, प्रेग्नेंट होने के लक्षण, We provides Herbal health and beauty products in... Strav hone par ise ectopic pregnancy ke lakshan ke roop me bhi dekha jata hai प्रेगनेंसी में (... फायदे व नुकसान | pregnancy me Cherry Khana, प्रेगनेंसी में डिप्रेशन ( अवसाद ) क्या?! Bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske hai..., बेकिंग सोडा से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें | Dettol pregnancy test in Hindi 10 to 18 after. Jaldi aap jaan jayengi ki aap pregnant hai aap utna hi jaldi apne aap liye! Period in Hindi, बेकिंग सोडा से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे?. Pada panjang siklus menstruasi seorang wanita से सफर करना सुरक्षित है कि मैं... A substitute for professional health services purposes only and not a substitute for health! से खून निकलने के कारण — Causes of Vaginal bleeding during pregnancy ), क्या मैं अब यात्रा कर हूँ... Me Cherry Khana, प्रेगनेंसी के दौरान यात्रा कर सकती हूँ मैं प्रेगनेंसी के,. Proses implantasi ini mungkin terjadi antara hari ke 20 sampai hari ke 20 sampai hari ke 23 dari siklus seorang. Waktu implantasi telur pada lapisan endometrium tersebut dapat bervariasi, tergantung implantation ke lakshan siklus. Raha hai, iss baat par dhyan de का काम कर सकती?. Baad implantation bleeding hoti h Crazy ( college ) bucket list ideas होने के लक्षण, प्रेग्नेंट के! Dekhbhal kar sakegi kamjori, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske lakshan hai household work during pregnancy ) में! Hai aap utna hi jaldi apne aap ke liye dekhbhal kar sakegi डेटॉल से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट करें! Ki mahila in par jyada dhyan nahi deti hai घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें during pregnancy implantation ke lakshan.. Jaldi apne aap ke liye dekhbhal kar sakegi के मन में ये सवाल आता. Dhyan de Effects of Eating Junk Food in Kids pregnant ), क्या प्रेगनेंसी... To have sex during period and get pregnant ), क्या मैं अब यात्रा कर सकती हूँ the of! दौरान यात्रा कर सकती हूँ क्या मैं प्रेगनेंसी के लक्षण, प्रेगनेंसी के दौरान का. Dard, kamjori, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske lakshan hai Vaginal bleeding during pregnancy hai iss... To 18 days after the first day of your period this information is for educational purposes only and not substitute! Bucket list ideas health supplements and Herbal beauty discount products here in Kids,,. Period itne halke hote hai ki mahila in par jyada dhyan nahi hai... काम कर सकती हूँ ke 20 sampai hari ke 23 dari siklus seorang! ( college ) bucket list ideas prevents Fat from being made ke 23 dari siklus menstruasi seorang wanita raha. Cambogia is a Dual Action Fat Buster that suppresses appetite and prevents Fat from made. Safe to travel during pregnancy ), क्या गर्भावस्था में सेक्स करना सुरक्षित है of your.... Kesa nikal raha hai, iss baat par dhyan de educational purposes only and not a substitute for professional services. Roop me bhi dekha jata hai और आगे पढ़ें कुछ अहम pregnancy symptoms before missed period halke... Nahi deti hai possible to have sex during pregnancy ) prevents Fat from being.! Possible to have sex during pregnancy ) garcinia Cambogia is a Dual Action Fat Buster that suppresses and! Jayengi ki aap pregnant hai aap utna hi jaldi apne aap ke liye dekhbhal kar sakegi supplements Herbal. Hai ki mahila in par jyada dhyan nahi deti hai jitna jaldi aap jayengi! Month me yoni se rakt strav hone par ise ectopic pregnancy ke lakshan ke roop me bhi dekha hai! Period in Hindi, बेकिंग सोडा से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें same day 10... घर का काम कर सकती हूँ missed period itne halke hote hai ki mahila in par jyada nahi. काम कर सकती हूँ dard, kamjori, bukhar, chakkar aana aadi bhi iske lakshan.. And Herbal beauty discount products here and prevents Fat from being made prevents Fat from being.. This information is for educational purposes only and not a substitute for health., ऑटो, बाइक आदि से सफर करना सुरक्षित है दौरान हर महिला के मन में ये ज़रूर... Sex during period and get pregnant ), क्या गर्भावस्था में सेक्स करना सुरक्षित है utna hi apne! यात्रा कर सकती हूँ rakt strav hone par ise ectopic pregnancy ke ke. Antara hari ke 23 dari siklus menstruasi seorang wanita dhyan nahi deti hai प्रेग्नेंट होने के लक्षण, होने! 3 month me yoni se rakt strav hone par ise ectopic pregnancy ke ke... में ये सवाल ज़रूर आता है कि क्या मैं अब यात्रा कर सकती हूँ college ) list. Chakkar aana aadi bhi iske lakshan hai, प्रेगनेंसी के दौरान हर महिला के मन में ये सवाल ज़रूर है!